सोमवार, 1 जून 2009

तम्बाखू के सेवन से घर से चोर और गली में कुत्ता दूर

एक कांग्रेसी
ओये झ्ल्लेया देखा हसाडी सरकार का कमालओये हुन तम्बाखू उत्पादों पर १५२००९से सचित्र चेतावनी छपेगीइससे तम्बाखू के आदी हतोत्साहित होंगेतम्बाखू के सेवन से प्रति दिन होने वाली २२०० मौतों को रोका जा सकेगाकेंसर ,टी.बी.,सेंथ्रेतिक , आस्थिओपोरोसिस,दिल के रोग,आदी को रोका जा सकेगाओये अब तो इन रोगों के उपचार के लिए हो रहे अरबों रुपयों का खर्च दूसरे विकास कार्यों में लगाया जा सकेगा
झल्ला
ओ भोले बादशाहों आप जी को तम्बाखू के लाभों की जानकारी नहीं है कान खोल कर सुनो तम्बाखू के सेवन से[अ] आबादी की वृधि रोकी जा सकती है क्योंकि तम्बाखू से
[१]माँ बन्ने की संभावना कम हो जाती है
[२]गर्भपात की दर में वृधि होती है
[३]सेक्स का आनंद कम होता है
[४]गर्भ निरोधक की जरूरत ही नही रहती
[आ] घर में चोर नही घुसता क्योंकि
[१]कमउम्र में ही टी.बी.हो जाती है रोगी को सारी रात खांसने का वरदान मिल जाता है इससे चोर दूर ही रहते है [इ ]कुत्ते [आवारा और पालतू दोनों ]पैरों में काटते नहीं क्योंकि आस्तिओपोरोसिस होगा, एस्ट्रोजेन हारमोंस की कमी होगी ,हड्डियां कमजोर होगीइससे लाठी के सहारे चलना होगा हाथ में लाठी हो तो शत्रु तो कया कटखने कुत्ते भी नज़दीक नही फटक सकते
[ई]आस पास का पर्यावरण सुधरेगा कयोंकि
[१]साँस के रोग होंगे जिससे भीड़ भाड़ दूर रहेगी
बेशक तम्बाखू से २२०० भारत में और १०००० विश्व में मौतें प्रतिदिन होती हे मगर तम्बाखू के लाभों के चलते ही आज प्रत्येक तीसराभाग्यवान रोगी तम्बाखू सेवक ही है

10 टिप्‍पणियां:

  1. ठीक कहा आपने। अच्छी चर्चा।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com
    shyamalsuman@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. और भी गम है ज़माने में मुहब्बत के सिवा।

    सुस्वागतम्....

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत अच्छा लिखा है आपने । आपका शब्द संसार भाव, विचार और अभिव्यिक्ति के स्तर पर काफी प्रभावित करता है ।-

    http://www.ashokvichar.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपने तो अपने तर्कों से धूम्रपान के नुकसानों में भी फायदे गिना दिए हैं.....क्या बात है.....चिट्ठाजगत में आपका हार्दिक अभिनन्दन करता हूँ....

    साभार
    हमसफ़र यादों का.......

    उत्तर देंहटाएं